एकतरफा प्यार...महिला सिपाही ने बहनों के साथ मिलकर रची थी साजिश, अरेस्ट:

post

  1. अयोध्या में कॉन्स्टेबल मर्डर का खुला राज, महिला सिपाही अरेस्ट
  2. मृतक कॉन्स्टेबल से एकतरफा प्यार की बात आ रही है सामने
  3. अपनी बहनों और एक साथी के साथ मिलकर वारदात का आरोप
  4. अयोध्या के राम जन्मभूमि थाने में हुई थी आरोपी की पहली पोस्टिंग
अयोध्या : अयोध्या के सबसे संवेदनशील क्षेत्र राम जन्मभूमि थाने में तैनात सिपाही की मर्डर मिस्ट्री में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। एकतरफा मोहब्बत के चलते साथी महिला कर्मी ने ही अपनी दो बहनों और सहयोगियों के साथ मिलकर साजिश रची थी। कॉन्स्टेबल की हत्या के बाद शव को सड़क के किनारे फेंक दिया गया था। जानकारी के अनुसार महिला सिपाही ही हत्या की मास्टरमाइंड है। वह मृतक योगेश चौहान को लेकर 7 अक्टूबर को अयोध्या से रवाना हुई। इसके बाद बहनों और उनके साथियों के साथ मिलकर हत्या की। शव को इटावा जिले के लवेदी थाना क्षेत्र में सुनसान जगह पर फेंक दिया गया था।

बता दें कि 2019 बैच के सिपाही योगेश चौहान और इसी बैच की पुलिसकर्मी मंदाकिनी की पहली पोस्टिंग अयोध्या के थाना राम जन्मभूमि में हुई थी। दोनों में जान-पहचान भी थी। 7 अक्टूबर को दोनों अवकाश लेकर अपने-अपने घरों के लिए रवाना हुए, लेकिन 8 अक्टूबर को योगेश चौहान का शव बरामद हुआ। इटावा जिले के लवेदी थाना क्षेत्र में सुनसान जगह पर अर्धनग्न अवस्था में शव मिला था। छानबीन के बाद से ही शक की सुई बार-बार महिला सिपाही की तरफ इशारा कर रही थी।